बच्चा (बाल-दिवस पर)




चलता-चलता गिरता बच्चा
गिर गिर कर सम्हलता बच्चा 
दादा जी की उंगली थामे
गली-पार्क में खेले बच्चा

फूलों-सी मुस्कान बिखेरे
घर भर का दुलारा बच्चा
पल में रोये पल में हंस दे
सबको नाच नचाये बच्चा

खेले-कूदे तुतलाकर बोले
एक अनमोल  उपहार है बच्चा 
न जाति न धर्म को माने
ईश्वर का अवतार  है बच्चा

कभी झूठ न बोले और न
छल-कपट जाने है बच्चा
हंस हंसकर जीना सिखलाए
सबके गले लग जाए बच्चा

3 टिप्‍पणियां:

  1. बाल दिवस पर सभी विद्यार्थियों को मंगलकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  2. बाल दिवस पर सभी बच्चों को शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  3. आपने बालकों को याद रखा यह बहुत बड़ी बात है। मेरी ओर से शुभकामनाएँ। बच्चे का हँसता-खिलखिलाता फोटो बहुत अच्छा है।

    उत्तर देंहटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...